NEET 2024 में बड़ा बदलाव | Big change in NEET 2024

neet

Big change in NEET 2024 – यूजी मेडिकल एंट्रेंस एग्जाम नीट 2024 रजिस्ट्रेशन ऑफिशियल वेबसाइट neet.ntaonline.in पर चल रहा है। यहां बात हो रही है नीट यूजी 2024 टाई ब्रेकिंग पॉलिसी की। नेशनल टेस्टिंग एजेंसी की NEET Tie Breaking New Rule के हिसाब से आपके मार्क्स पर आपको क्या रैंक मिलेगी, ये सिर्फ आपकी मेहनत और परफॉर्मेंस पर ही निर्भर नहीं करेगा। बल्कि इसमें टेक्नोलॉजी का बड़ा रोल होगा। समझिए कैसे?

यूजी नीट 2024 में टाई ब्रेकिंग कैसे होगी?

Big change in NEET 2024 – अगर दो या ज्यादा स्टूडेंट्स को नीट एग्जाम में समान मार्क्स मिलते हैं तो रैंक का फैसला कैसे होगा? एनटीए के नए नियम के अनुसार, अगर नीट में मार्क्स या परसेंटाइल स्कोर सेम होते हैं तो रैंक नीचे बताए गए तरीकों से उसी क्रम में निर्धारित की जाएगी-

  • NEET परीक्षा में जिसे बायोलॉजी (बॉटनी और जूलॉजी) में ज्यादा नंबर मिलेंगे, उसे हायर रैंक मिलेगी।
  • परीक्षा में जिसे केमिस्ट्री में ज्यादा नंबर मिले होंगे, उसे हायर रैंक दी जाएगी।
  • जिसे फीजिक्स में बाकियों से ज्यादा नंबर मिले होंगे, उसकी रैंक ऊपर होगी।
  • कंप्यूटर या आईटी के इस्तेमाल से लकी ड्रॉ निकाला जाएगा, जिसमें कोई मानवीय हस्तक्षेप नहीं होगा। इस ड्रॉ में कंप्यूटर जिसका नाम/ रोल नंबर चुनेगा, उसे हाई रैंक दे दी जाएगी।

NEET 2023 में टाई ब्रेकिंग पॉलिसी क्या थी?

पिछले साल तक ऐसा नहीं था। नीट यूजी 2023 की बात करें तो बायोलॉजी, केमिस्ट्री और फीजिक्स के मार्क्स के बाद भी अगर स्कोर सेम होते थे, तो छात्रों द्वारा दिए जाने वाले गलत जवाबों (निगेटिव मार्किंग) के आधार पर रैंक डिसाइड होती थी। जो अलग-अलग सब्जेक्ट्स में कम से कम गलत आंसर देता था, उसकी रैंक ऊपर होती थी। लेकिन इस बार वो नियम खत्म कर दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *